Spread the love

गुरु गोरखनाथ चिकित्सालय गोरखपुर के वरिष्ठ कैंसर रोग चिकित्सक डॉक्टर सी. एम सिन्हा स्वयंसेवक/स्वंयसेविकाओं से सवांद स्थापित किए।

महाविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना के चारों इकाइयों मीराबाई महाराणा प्रताप गोरखनाथ एवं सुभाष इकाइयों के सप्त दिवसीय शिविर के छठवें दिन प्रातः सत्र में प्रार्थना सभा एवं योगासन संपन्न हुआ इसके पश्चात भाषण प्रतियोगिता- जागरूक मतदाता विषय पर हुआ जिसमें शांभवी पांडे प्रथम स्थान राहुल कुमार द्वितीय स्थान एवं यशवंत मल तृतीय स्थान प्राप्त किए। मस्कट प्रतियोगिता में रोशनी सिंह चौहान प्रथम स्थान सागर चौधरी द्वितीय स्थान एवं कुमारी प्रीति तृतीय स्थान प्राप्त की।

द्वितीय बौद्धिक सत्र के गुरु गोरखनाथ चिकित्सालय गोरखपुर के वरिष्ठ कैंसर रोग चिकित्सक डॉक्टर सी. एम सिन्हा स्वयंसेवक /स्वंयसेविकाओं से सवांद स्थापित करते हुए कहा कि ठीक है विभिन्न बीमारियां आपके स्वास्थ्य को खराब कर देती है स्वस्थ जीवन शैली के लिए आपको कम से कम प्रतिदिन 45 मिनट का योगासन करना चाहिए।

मुख कैंसर एवं गले के कैंसर को पीपीटी पावरप्वाइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से बताया कि यह बीमारी तंबाकू सेवन गुटखा सेवन बीड़ी के सेवन सिगरेट के सेवन अत्यधिक अल्कोहल के उपयोग के कारण मुख में गांठ बन जाती है अथवा जबड़े से मांस निकल जाते हैं।

जिसके कारण खून आने लगता है इस कैंसर रोग को ऑपरेशन करके अथवा कीमोथिरेपी के माध्यम से उपचार किया जाता है साथ ही साथ विभिन्न बीमारियों जैसे टाइफाइड ज्वाइंडिस हार्ड अटैक ब्लड प्रेशर शुगर हेपेटाइटिस आदि के लक्षण के बारे में बहुत ही सारगर्भित तरीके से रखा एवं आवाहन किया कि आप स्वयं सेवक एवं स्वयं सेविकाओं इन लक्षणों के बारे में जब भी अभिगृहीत क्षेत्र में जाएं गांव जाए तो ऐसे लक्षण मिलने पर उनको उपचार की सलाह अवश्य दें।

उन्होंने आगे कहा कि जब हम स्वस्थ रहेंगे तभी हम स्वस्थ समाज का विकास कर पाएंगे इस संबंध में डब्ल्यूएचओ का उदाहरण देते हुए कहा कि एक स्वस्थ गरीब किसान उस अस्वस्थ राजा से हजार गुना बेहतर है जो कि स्वस्थ है यदि रविंद्र नाथ टैगोर एवं सी. वी रमन जी नोबेल प्राइज विजेता थे तो यह स्वस्थ थे अगर वह स्वस्थ नहीं होते तो ऐसा नहीं कर पाते।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ शैलेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि डॉ सिन्हा के द्वारा बताए गए बीमारियों के लक्षणों की पहचान करने कि आज के समय में आवश्यकता है कि आप स्वयं सेवक एवं स्वयंसेविका जब भी फील्ड में कार्य कर रहे हो समाज सेवा को मिशन के रूप में लेते हुए ऐसे लोगों का मदद करने का कार्य करें।

इस कार्यक्रम का संचालन कार्यक्रम अधिकारी डॉ संजय कुमार त्रिपाठी एवं आभार ज्ञापन डॉ रुकमणी चौधरी ने किया इस अवसर पर कार्यक्रम अधिकारी श्री सुरेंद्र चौहान डॉ चंडी प्रसाद पांडेय उपस्थित रहे।

आज सायं काल राष्ट्रीय सेवा योजना के छठे दिवस पर कैटं फायर का आयोजन किया गया, जिसमें स्वयंसेवक स्वयंसेविकाओं ने समाज एवं राष्ट्र की सेवा करने के लिए संकल्प लिए, इसके बाद महाराणा प्रताप इकाई एवं मीराबाई इकाई के कार्यक्रम अधिकारी डॉ संजय कुमार त्रिपाठी एवं डॉ रुक्मिणी चौधरी के नेतृत्व में कैंडल मार्च काआयोजन मीराबाई छात्रावास से प्रारंभ होकर इंदिरा बाल विहार चेतना तिराहे से होते हुए महाविद्यालय आकर संपन्न हुई।

इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ शैलेंद्र प्रताप सिंह ने सफल आयोजन पर सभी को शुभकामनाएं एवं आशीष वचन प्रदान किया कार्यक्रम अधिकारी श्री सुरेंद्र चौहान डॉ चंडी प्रसाद पांडे एवं श्री भगवान सिंह आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *